Breaking News

NEET की तैयारी कर रही 16 साल की नाबालिग छात्रा ने बच्ची को दिया जन्म, परिजनों ने दर्द होने पर लड़की को भर्ती करवाया अस्पताल में !

NEET: कोटा शहर में नीट की तैयारी कर रही एक नाबालिग कोचिंग छात्रा के गर्भवती होने का मामला सामने आया है। छात्रा ने जेके लोन अस्पताल में बच्ची को जन्म दिया है। डॉक्टरों के मुताबिक फिलहाल जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। वहीं, अस्पताल प्रशासन की सूचना पर बाल कल्याण समिति की टीम भी अस्पताल पहुंची और डॉक्टरों से मामले की जानकारी ली। बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष कनीज फातिमा ने बताया कि पहले परिजन बच्चे को रखना चाहते थे। अब उन्होंने बच्चे को चाइल्ड वेलफेयर कमेटी को सौंपने का फैसला किया है। फिलहाल इस मामले में परिजनों की ओर से पुलिस को कोई शिकायत नहीं दी गई है।

NEET

छात्रा दो महीने पहले ही कोटा आई थी

जानकारी के अनुसार नाबालिग छात्रा की उम्र 16 वर्ष है। वह मप्र की रहने वाली है और 2 महीने पहले नीट की तैयारी के लिए कोटा आई थी। वर्तमान में छात्रा कुन्हाड़ी इलाके में रह रही है। ऐसे में छात्रा के साथ उसके परिजन भी कोटा में मौजूद थे। पेट दर्द की शिकायत पर युवती के परिजन उसे अस्पताल ले गए थे। पड़ताल में उसके साढ़े 8 माह के गर्भ की जानकारी सामने आई। जिसके बाद उन्हें जेके लोन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां छात्रा को लेबर रूम में शिफ्ट कर दिया गया। जहां उसने बच्चे को जन्म दिया। नाबालिग के परिजन इस मामले में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। नाबालिग के गर्भवती होने की सूचना पर बाल कल्याण समिति की टीम काउंसलर के साथ अस्पताल पहुंची। लेकिन परिजनों ने जानकारी देने से मना कर दिया।

बच्चे की जिम्मेदारी सीडब्ल्यूसी संभालेगी

जेके लोन अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. भारती सक्सेना ने कहा कि छात्रा को सोमवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसकी नॉर्मल डिलीवरी हुई। वहीं, पहले परिजनों ने नवजात को रखने की इच्छा जताई थी, लेकिन आज जब डॉक्टरों की टीम ने राउंड किया तो परिजनों ने बच्चे को रखने से मना कर दिया। जिस पर बाल कल्याण समिति को जानकारी दी गई है। वहीं, बाल कल्याण समिति ने कागजी कार्रवाई के बाद बच्चे को अपने संरक्षण में ले लिया है।

About aviindianews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *